टीम इंडिया मैनचेस्टर टेस्ट खेलने को नहीं तैयार, आईपीएल है वजह-रिपोर्ट

"टीम इंडिया मैनचेस्टर टेस्ट खेलने को नहीं तैयार, आईपीएल है वजह-रिपोर्ट" © News18 हिंदी द्वारा प्रदत्त "टीम इंडिया मैनचेस्टर टेस्ट खेलने को नहीं तैयार, आईपीएल है वजह-रिपोर्ट"

नई दिल्ली. भारत और इंग्लैंड के बीच आज से मैनचेस्टर में खेले जाने वाले पांचवें और आखिरी टेस्ट (IND vs ENG Manchester Test) पर अब भी संकट के बादल मंडरा रहे हैं. क्योंकि भारतीय खिलाड़ी इस टेस्ट को खेलना नहीं चाह रहे. जबकि एक दिन पहले सभी खिलाड़ियों की कोरोना की आरटी-पीसीआर रिपोर्ट निगेटिव आई थी. इसके बावजूद विराट कोहली (Virat Kohli) की सेना को कोरोना का डर सता रहा है. दरअसल, एक दिन पहले ही टीम के असिस्टेंट फिजियोथेरेपिस्ट योगेश परमार (Yogesh Parmar) भी कोविड-19 पॉजिटिव (Corona Cases in Team India) पाए गए थे. इसके बाद सभी खिलाड़ियों की कोरोना जांच हुई थी, जिसमें सबकी रिपोर्ट निगेटिव आई. इससे पहले हेड कोच रवि शास्त्री और सपोर्ट स्टाफ के कुछ अन्य सदस्यों की भी कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आई थी और सभी फिलहाल आइसोलेशन में हैं.

इंडियन एक्सप्रेस की रिपोर्ट के मुताबिक, भारतीय खिलाड़ियों की गुरुवार शाम बैठक हुई थी, जिसमें टीम के अधिकांश खिलाड़ियों ने पांचवां टेस्ट खेलने की अनिच्छा जताई थी. सूत्रों के मुताबिक, इस टेस्ट के खत्म होने के 4 दिन बाद से ही यूएई में इंडियन प्रीमियर लीग 2021 का सेकेंड फेज शुरू होना है. ऐसे में खिलाड़ियों को कोरोना वायरस से संक्रमित होने का डर सता रहा है.

खासतौर पर उन खिलाड़ियों को, जो कोरोना पॉजिटिव पाए गए टीम के फिजियोथेरेपिस्ट योगेश के सीधे संपर्क में थे. परमार ओवल टेस्ट के दौरान और उसके बाद भी रोहित शर्मा (Rohit Sharma), चेतेश्वर पुजारा (Cheteshwar Pujara), मोहम्मद शमी (Mohammed Shami) और इशांत शर्मा जैसे खिलाड़ियों की चोट की निगरानी कर रहे थे. ऐसे में इन खिलाड़ियों को यह नहीं पता कि आगे क्या होगा. क्योंकि कोराना वायरस के लक्षण सामने आने में कुछ दिन का वक्त लगता है.

खिलाड़ियों को कोरोना संक्रमित होने का डर सता रहा

टीम इंडिया से जुड़े सूत्रों ने बताया कि फिजियोथेरेपिस्ट के संपर्क में आए खिलाड़ियों को यह डर सता रहा है कि अगर आगे उनकी कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आती है, तो इनके आईपीएल के साथ-साथ अक्टूबर में होने वाले टी20 विश्व कप खेलने पर सवाल खड़ा हो सकता है. टीम इंडिया के खिलाड़ियों ने भले ही मैनचेस्टर टेस्ट नहीं खेलने की इच्छा जताई है. लेकिन स्काई स्पोर्ट्स ने बताया है कि मैनचेस्टर टेस्ट तय शेड्यूल के मुताबिक ही होगा. रिपोर्ट में कहा गया है कि इंग्लैंड और भारत के बीच शुक्रवार को पांचवां टेस्ट निर्धारित कार्यक्रम के अनुसार होगा, क्योंकि टीम इंडिया के फिजियोथेरेपिस्ट के कोरोना संक्रमित होने के बाद किसी खिलाड़ी की रिपोर्ट पॉजिटिव नहीं आई.

बीसीसीआई भी मैनचेस्टर टेस्ट नहीं खेलना चाहती !

इसके बावजूद टीम इंडिया ने बीसीसीआई के निर्देश के बाद गुरुवार को अपना ट्रेनिंग सेशन रद्द कर दिया था. बीसीसीआई ने मैनचेस्टर मैच को लेकर अपने पत्ते नहीं खोले हैं. यह पूछे जाने पर कि क्या पांचवां टेस्ट आगे बढ़ेगा, बीसीसीआई अध्यक्ष सौरव गांगुली (Sourav Ganguly) ने इंडियन एक्सप्रेस से कहा कि इस मामले पर अभी कुछ नहीं कहा जा सकता.

यह भी पढ़ें: Ind vs Eng: कोरोना के चलते मैनचेस्टर टेस्ट नहीं खेलना चाहता है टीम इंडिया का वरिष्ठ खिलाड़ी!

राहुल द्रविड़ की NCA में 2 बार सेलेक्शन, अब एक ओवर में 6 छक्के समेत लगाए 16 सिक्सर

बीसीसीआई नहीं चाहती कि आईपीएल प्रभावित हो

सूत्रों के मुताबिक, बीसीसीआई ने इस मामले पर टीम से बात की है और वो भी मैनचेस्टर टेस्ट खेलने की इच्छुक नहीं है. क्योंकि आईपीएल 2021 का दूसरा चरण 19 सितंबर से यूएई में शुरू हो रहा है. ऐसे में बीसीसीआई नहीं चाहती है कि टूर्नामेंट किसी भी वजह से प्रभावित हो. साथ ही, भारतीय क्रिकेट बोर्ड इस मामले पर ईसीबी के साथ भी लगातार संपर्क में है.

दूसरी तरफ, इंग्लैंड के उप-कप्तान जोस बटलर को तय शेड्यूल के मुताबिक, टेस्ट होने की पूरी उम्मीद है. उन्होंने कहा कि ईमानदारी से बताऊं तो इस वक्त हम टेस्ट के रद्द होने के बारे में ज्यादा नहीं जानते हैं. फिलहाल, हम खेल के आगे बढ़ने की पूरी उम्मीद कर रहे हैं और उसी लिहाज से ही तैयारी कर रहे हैं.

टीम इंडिया मैनचेस्टर टेस्ट खेलने को नहीं तैयार, आईपीएल है वजह-रिपोर्ट