पंजाब कांग्रेस कलह: पार्टी नेताओं से मिलकर बोले नवजोत सिंह सिद्धू, राहुल-प्रियंका के आदेश का करुंगा पालन; मीटिंग से पहले कैप्टन से मिले CM चन्नी

गुरुवार को नवजोत सिंह सिद्धू ने दिल्ली में शीर्ष कांग्रेसी नेताओं से मुलाक़ात की तो वहीं सीएम चन्नी पूर्व मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह से मिलने उनके आवास पर पहुंचे। (फोटो: एएनआई) © Jansatta द्वारा प्रदत्त गुरुवार को नवजोत सिंह सिद्धू ने दिल्ली में शीर्ष कांग्रेसी नेताओं से मुलाक़ात की तो वहीं सीएम चन्नी पूर्व मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह से मिलने उनके आवास पर पहुंचे। (फोटो: एएनआई)

पंजाब कांग्रेस में उपजा कलह थमने का नाम नहीं ले रहा है। पंजाब कांग्रेस अध्यक्ष पद से इस्तीफा देने वाले नवजोत सिंह सिद्धू ने गुरुवार को दिल्ली में कांग्रेस प्रभारी हरीश रावत और कांग्रेस के संगठन महासचिव के सी वेणुगोपाल से भी मुलाक़ात की। मुलाकात के बाद उन्होंने कहा कि वे राहुल गांधी और प्रियंका गांधी के सभी आदेश का पालन करेंगे। वहीं पंजाब के नए मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी गुरुवार को पूर्व मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह से मिलने उनके फ़ार्म हाउस पर पहुंचे।

गुरुवार को दिल्ली पहुंचे नवजोत सिद्धू ने पंजाब भवन में कई कांग्रेसी नेताओं से मुलाकात की। इसके बाद वे पंजाब कांग्रेस प्रभारी हरीश रावत से भी मिले। साथ ही वे कांग्रेस के संगठन महासचिव के सी वेणुगोपाल से मिले। दोनों नेताओं से मिलने के बाद नवजोत सिंह सिद्धू ने कहा कि मैंने पंजाब के प्रति, पंजाब कांग्रेस के प्रति जो भी मेरी चिंताएं थी वो पार्टी हाई कमांड को बताई हैं। मुझे कांग्रेस अध्यक्ष पर, प्रियंका गांधी पर और राहुल गांधी पर पूरा भरोसा है। वे जो भी निर्णय लेंगे वो कांग्रेस और पंजाब के हित में होगा, उनके हर आदेश का पालन करूंगा।

वहीं पंजाब कांग्रेस प्रभारी हरीश रावत ने भी मीडिया से बातचीत करते हुए कहा कि सिद्धू ने साफ तौर पर कहा कि कांग्रेस अध्यक्षा सोनिया गांधी, राहुल गांधी और प्रियंका गांधी का आदेश उनको सर्वमान्य होगा। आदेश बिल्कुल साफ है कि वे प्रदेश कांग्रेस कमेटी पंजाब के अध्यक्ष के रूप में अपना काम पूरी शक्ति से करें। कल(शुक्रवार) आपको इससे बड़ी सूचना विधिवत तरीके से मिलेगी। 

वहीं गुरुवार को पंजाब के नए मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी अचानक पूर्व मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह से मिलने उनके मोहाली स्थित फार्महाउस पर पहुंचे। मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार सीएम चरणजीत सिंह अपने नवविवाहित बेटे और बहू को लेकर कैप्टन अमरिंदर सिंह का आशीर्वाद लेने उनके आवास पर पहुंचे। दोनों नेताओं के बीच हुई इस मुलाक़ात को काफी अहम माना जा रहा है।

मुख्यमंत्री पद से हटाए जाने के बाद से ही कैप्टन अमरिंदर सिंह कांग्रेस से काफी नाराज चल रहे हैं। हालांकि चरणजीत सिंह चन्नी को मुख्यमंत्री बनाए जाने पर कैप्टन अमरिंदर सिंह ने उन्हें बधाई दी थी। लेकिन पिछले दिनों केंद्र सरकार द्वारा बीएसएफ के अधिकार क्षेत्र को बढ़ाने पर दोनों नेताओं के बीच सियासी घमासान भी शुरू हो गया था। अमरिंदर सिंह ने केंद्र सरकार के इस फैसले को सटीक बताते हुए बीएसएफ के अधिकार क्षेत्र को बढ़ाने के फैसले को उचित ठहराया तो सीएम चन्नी ने इसे संघवाद पर हमला बताया। अमरिंदर सिंह के इस बयान पर पंजाब सरकार के मंत्री प्रगट सिंह ने भी जोरदार पलटवार किया। 

पंजाब कांग्रेस कलह: पार्टी नेताओं से मिलकर बोले नवजोत सिंह सिद्धू, राहुल-प्रियंका के आदेश का करुंगा पालन; मीटिंग से पहले कैप्टन से मिले CM चन्नी